प्रभुनाथ सिंह

डा. प्रभुनाथ सिंह से मनोज भावुक के बातचीत डूमरी कतेक दूर अब नियराइल बा – डा. प्रभुनाथ सिंह सुन के धक से लागल कि डा. प्रभुनाथ सिंह ना रहनी. काल्हे त बात भइल रहे – ना, अभी हमरा इहां हमार टी वी नइखे आवत.—-ह हो सोचते रह गइनी. …….अच्छा ,गांव से लौट के आवत बानी […]

Continue reading about डूमरी कतेक दूर अब नियराइल बा – डा. प्रभुनाथ सिंह