भोजपुरी ने देश को राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री , मुख्यमंत्री, लोक सभास्पीकर और दिग्गज सांसदों की एक लम्बी लिस्ट दी लेकिन इस देश और इन नेताओं ने भोजपुरी को क्या दिया ??? भोजपुरी आज भी अपने अस्तित्व के लिए दर-ब-दर की ठोकरे खा रहीं है.

पुरबिया चैनल हमार टीवी पर भोजपुरी भाषा को बढ़ावा देने के हर संभव प्रयास किये जा रहे हैं। अभी चैनल हमार टीवी पर एक शो ‘ भोजपुरिया समाज के जुटान’ प्रसारित किया गया। इस शो में दिल्ली में आयोजित प्रवासी सम्मेलन में मारीशस और हिंदुस्तान के कोन-कोने से आये भोजपुरी दिग्गजों डॉ. सरिता बुद्दू, जगदीश गोवर्धन, डॉ. अरूणेश नीरन, डॉ. बी.एन.तिवारी और मनोज श्रीवास्तव ने शिरकत की। भोजपुरी के सुप्रसिद्ध कवि मनोज भावुक इस शो को होस्ट कर रहे थे। इस कार्यक्रम में भोजपुरी भाषा के इतिहास, क्रमबद्ध विकास-यात्रा, विश्व भर में फैले तमाम भोजपुरी भाषी देशों में भोजपुरी कि वर्तमान स्थिति का तुलनात्मक विवेचन, लोक गीत, लोक रंग , लोक कथा , संस्कार गीत , तीज -त्यौहार , भोजपुरी भाषा के बदलते स्वरुप और चुनौती, संभावना और भविष्य के बारे में चर्चा की गई।

कार्यक्रम के दौरान बताया गया कि भोजपुरी भाषा हिंदुस्तान की सरकारी भाषा नहीं है . इसे अब तक आंठवी अनुसूची में शामिल नहीं किया गया है । लेकिन सत्य तो यह है कि भोजपुरी भाषा अंतरराष्ट्रीय भाषा बन गई है। इस भाषा को बोलने वालों की संख्या भारत में करीब 15 करोड है तो वहीं भारत से बाहर करीब 5 करोड लोग इस भाषा में संवाद करते हैं । इन देशों में मारीशस, फिजी, गुयाना, त्रीनीदाद, सूरीनाम, हॉलैंड, थाईलैंड, सिंगापुर, इंडोनेशिया, नेपाल और अफ्रिका के कई देश शामिल हैं। भोजपुरी भाषा का इतिहास एक हजार साल पुराना है और इस भाषा में करीब पांच हजार पुस्तकें प्रकाशित की जा चुकी हैं। अपने देश में बोली जाने वाली मातृभाषाओं मे यह भाषा सबसे ज्यादा बोली जाती है।

कार्यक्रम को प्रस्तुत कर रहे मनोज भावुक ने कई बार इस सवाल को उठाया कि एक हजार साल पुराने इतिहास वाली भाषा , देश में हिन्दी के बाद सबसे अधिक लोगों द्वारा बोली जाने वाली भाषा भोजपुरी को अपने हीं देश भारत में वह सम्मान व सरकारी मान्यता नहीं प्राप्त है जो इसे मारीशस में प्राप्त है जबकि भारत इस भाषा का संस्थापक है। इसके प्रचार-प्रसार में कहां कमिया रह गई हैं या कि राजनैतिक इच्छा शक्ति का आभाव हीं मूल कारण है. जिस भाषा ने देश को राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री , मुख्यमंत्री, लोक सभास्पीकर और दिग्गज सांसदों की एक लम्बी लिस्ट दी है वह आज भी अपने अस्तित्व के लिए दर-ब-दर की ठोकरे खा रहीं है.

शो के दौरान भोजपुरी भाषा को संविधान की आंठवी अनुसूचि में शामिल किये जाने पर चर्चा की गई और मारीशस के आये भोजपुरी के विद्वानों का कहना था कि मारीशस में प्राईमेरी लेवल पर भोजपुरी भाषा की पढ़ाई करवाई जाती है लेकिन हिंदुस्तान में ऐसा कोई सिस्टम नहीं है यहां केवल ग्रेजुएट और पोस्ट ग्रेजुएशन लेवल पर ही यह पढ़ाई करवाई जाती है। इसी वजह से भारत में भोजपुरी भाषा को इतना नहीं जाना जाता। यहां पर भी प्राईमेरी लेवल पर भोजपुरी भाषा की पढ़ाई करवाई जानी चाहिए। साथ ही इसमें भोजपुरी सिनेमा और मीडिया के विकास पर भी चर्चा की गई। मारीशस के आये विद्वानों का कहना था कि मारिशस में भी भोजपुरी मीडिया और सिनेमा विकास के रास्ते पर है।

अतिथि के तौर पर शामिल डॉ. सरिता बुद्दू विश्व भोजपुरी सम्मेलन और विश्व हिंदी सम्मेलन की पहली अंतरराष्ट्रीय महासचिव रह चुकी हैं। और साथ ही ये फ्रेंच, अंग्रेजी, भोजपुरी और हिंदी की विख्यात साहित्यकार हैं। और पूरे विश्व में करीब तीस सालों से भोजपुरी के प्रचार और प्रसार मे लगी हुई हैं। वहीं जगदीश गोवर्धन दस साल तक मारीशस के हेल्थ मिनिस्टर रह चुके हैं और अभी इंडियन डायास्पोरा सेंटर के अध्यक्ष और विश्व भोजपुरी सम्मेलन के अंतरराष्ट्रीय संयोजक हैं। और इन्होंने भोजपुरी भाषा के प्रचार के लिए एक प्रतिनिधी मंडल को लेकर भारत के भोजपुरी क्षेत्रों में 51 दिवसीय यात्रा पर निकलने का विचार किया है। तीसरे डॉ. अरूणेश नीरन जो कि विश्व भोजपुरी सम्मेलन के अंतरराष्ट्रीय महासचिव और समकालीन भोजपुरी साहित्य के संपादक हैं भी शामिल थे।। वहीं अखिल भोजपुरी समाज-विकास मंच के अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष और विश्व भोजपुरी सम्मेलन के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ. बी.एन.तिवारी भी कार्यक्रम में मौजूद थे। भोजपुरी संसार पत्रिका के संपादक मनोज श्रीवास्तव ने भी इस शो में शिरकत की।

http://www.bhadas4media.com/tv/8596-2011-01-17-08-02-48.html

http://samachar4media.com/news-story/Bhojpuri-Language-programme-on-Hamar-TV

http://www.mediakhabar.com/index.php/media-khabar/2010-03-23-17-01-07/1440-why-not-bhojpuri-got-official-recogination-so-far.html

http://www.mediaclubofindia.com/profiles/blogs/4335940:BlogPost:114196

http://anjoria.com/?p=2994

http://www.bhojpuriexpress.com/forum/topics/2145983:Topic:125661

Tags: