हिन्दी साहित्य को आवाज की दुनिया से जोड़ने और पॉडकास्टिंग को प्रोत्साहित करने के लिए हिन्दी की चर्चित वेबपत्रिका ‘हिन्दयुग्म’ द्वारा आयोजित दूसरे ‘गीतकॉस्ट प्रतियोगिता’ के विजेता बने हैं धर्मेंद्र कुमार सिंह। धर्मेंद्र वर्तमान में हमार टीवी में एसोसिएट प्रोड्यूसर हैं। ‘गीतकॉस्ट प्रतियोगिता’ में हिन्दी के महान कवियों की कविताओं को सुरबद्ध और संगीतबद्ध किया जाता है।

इस श्रृंखला में पहला सफल प्रयोग जयशंकर प्रसाद की कविता अरुण यह मधुमय देश हमारा को सुरबद्ध और संगीतबद्ध कर किया गया। इसमें धर्मेंद्र तीसरे स्थान पर आए थे। प्रतियोगिता की दूसरी कड़ी के लिए सुमित्रा नंदन पंत की कविता ‘प्रथम रश्मि का आना रंगिणी’ का चयन किया गया। इस कविता को दुनिया के कई देशों के गायकों ने सुरबद्ध और संगीतबद्ध किया। प्रतियोगिता का परिणाम आज घोषित किया गया।

प्रथम रश्मि’ के लिए आयोजित इस ‘गीतकास्ट प्रतियोगिता’के विजेता बने धर्मेन्द्र कुमार हिंदी-भोजपुरी के युवा गायक हैं। वे स्टेज, रेडियो, दूरदर्शन और विभिन्न चैनलों पर कार्यक्रम पेश कर चुके हैं। धर्मेंद्र फुर्सत के क्षणों में भोजपुरी के स्तरीय गीतों और गज़लों को आवाज देने में लगे रहते हैं। धर्मेंद्र से संपर्क 09911288960 के जरिए किया जा सकता है।
पंत जी की ‘प्रथम रश्मि का आना रंगिणी’ धर्मेंद्र की आवाज में सुनने के लिए क्लिक करें- गीतकॉस्ट प्रतियोगिता
साभार-
http://www.bhadas4media.com/award/1906-media-award.html

Tags: