हिन्दी साहित्य को आवाज की दुनिया से जोड़ने और पॉडकास्टिंग को प्रोत्साहित करने के लिए हिन्दी की चर्चित वेबपत्रिका ‘हिन्दयुग्म’ द्वारा आयोजित दूसरे ‘गीतकॉस्ट प्रतियोगिता’ के विजेता बने हैं धर्मेंद्र कुमार सिंह। ‘गीतकॉस्ट प्रतियोगिता’ में हिन्दी के महान कवियों की कविताओं को सुरबद्ध और संगीतबद्ध किया जाता है। इस श्रृंखला में पहला सफल प्रयोग जयशंकर […]

Continue reading about धर्मेंद्र की आवाज में सुने सुमित्रानंदन पंत और जयशंकर प्रसाद की प्रसिद्ध कविता

Continue reading about मिट्टी से लगाव ने इंजीनियर को बनाया अभिनेता

Continue reading about इंजिनियर, लेखक फिर बने अभिनेता मनोज भावुक

– मनोज भावुक शुरुवाती 14 वर्षों की बात छोड़ दें जब भोजपुरी फिल्म निर्माण की ज़मीन तैयार हुई थी तो भी भोजपुरी सिनेमा अब 50 साल का प्रौढ़ हो चुका है, लेकिन उम्र के इस पड़ाव पर भी इसमें प्रौढ़ावस्था वाली गंभीरता नहीं दिख रही है। जैसे-जैसे इसकी उम्र बढ़ी है, लड़कपन बढ़ता गया है। […]

Continue reading about भोजपुरी सिनेमा का सफ़र (1948-2012)