Bhojpuri Film

Bhawuk on February 20th, 2013

Continue reading about Manoj Bhawuk Police Officer in Movie

Bhawuk on February 19th, 2013

Manoj Bhawuk’s unique journey

Continue reading about Manoj Bhawuk’s Unique Journey

Bhawuk on February 19th, 2013

Continue reading about Renowned Bhojpuri Ghazal Writer Manoj Bhawuk

Bhawuk on February 19th, 2013

Continue reading about I am not new to Bhojpuri Film industry – Manoj Bhawuk

– मनोज भावुक शुरुवाती 14 वर्षों की बात छोड़ दें जब भोजपुरी फिल्म निर्माण की ज़मीन तैयार हुई थी तो भी भोजपुरी सिनेमा अब 50 साल का प्रौढ़ हो चुका है, लेकिन उम्र के इस पड़ाव पर भी इसमें प्रौढ़ावस्था वाली गंभीरता नहीं दिख रही है। जैसे-जैसे इसकी उम्र बढ़ी है, लड़कपन बढ़ता गया है। […]

Continue reading about भोजपुरी सिनेमा का सफ़र (1948-2012)

मशहूर भोजपुरी राइटर और टेलीविजन पर्सनाल्टी मनोज भावुक अब भोजपुरी फिल्मों में भी नजर आने लगे हैं. वर्ष 2012 के शुरुआत में हीं इनकी पहली फिल्म ‘सौगंध गंगा मईया के’ रिलीज हुई. मनोज की दूसरी फिल्म ‘रखवाला’ अगले वर्ष 26 जनवरी को रिलीज होगी. ‘सौगंध गंगा मईया के’ की तरह ही रखवाला में भी मनोज […]

Continue reading about मनोज भावुक का सेल्यूलाइड की दुनिया में प्रवेश

Bhawuk on June 19th, 2011

                                            Email-  manojsinghbhawuk@yahoo.co.uk Mob- 09971955234

Continue reading about Manoj Bhawuk

SEMINAR VIDEO – MANOJ TIWARI,RAVI KISHAN,MALINI AWASTHI,SHARDA SINHA,MANOJ BHAWUK एफएमसीसीए के स्वर्णिम भोजपुरी समारोह के अंतिम दिन भोजपुरी सिनेमा में भाषा और महिलाओं की स्थिति विषय पर सेमिनार आयोजित किया गया। सेमिनार का संचालन कवि व फिल्म समीक्षक मनोज भावुक ने किया। सेमिनार में पद्मश्री शारदा सिन्हा, मालिनी अवस्थी, बीएन तिवारी, निर्माता अभय सिन्हा, टीपी […]

Continue reading about भोजपुरी सिनेमा में भाषा और महिलाओं की स्थिति पर सेमिनार

Bhawuk on February 1st, 2011

भोजपुरी सिनेमा का पचासवां साल : अब तक नहीं मिला असली मुकाम : भोजपुरी सिनेमा अब 50 साल का प्रौढ़ होने वाला है, लेकिन उम्र के इस पड़ाव पर भी इसमें प्रौढ़ावस्था वाली गंभीरता नहीं दिख रही है. जैसे-जैसे इसकी उम्र बढ़ी है, लड़कपन बढ़ता गया है. ये इसका ऐसा लड़कपन है जिसे समय और […]

Continue reading about HISTORY OF BHOJPURI CINEMA